PHP KYA HAI


HTML एक बहुत ही आसान और उपयोगी language है। HTML के द्वारा आप web pages design करते है। HTML के साथ CSS के उपयोग से आप webpages को और भी beautiful बनाते है। लेकिन HTML सिर्फ webpages के structure और designing तक ही सिमित है। ऐसे कई tasks है जो HTML द्वारा नहीं perform किये जा सकते है। जैसे की –

  • HTML के द्वारा आप information server पर store नहीं कर सकते है और server से कोई information access भी नहीं कर सकते है।
  • HTML के द्वारा आप databases में data store नहीं कर सकते है और database से data access भी नहीं कर सकते है।
  • HTML के द्वारा webpages में logical/mathematical tasks भी perform नहीं किये जा सकते है।

  उदाहरण के लिए मान लीजिये आपने एक HTML form create किया है। इस form में user द्वारा data input किया जाता है। User द्वारा input किए गए data को आप किसी server या database में store करना चाहते है। इसी situation में HTML में ऐसा कोई feature नहीं है जिसके द्वारा data को server पर या database में store किया जा सके। HTML के साथ PHP को use करते हुए आप webpages में computational/server/database programming कर सकते है। HTML के द्वारा आप किसी webpage में addition भी नहीं करवा सकते है। लेकिन PHP आपको किसी programming language की capability provide करती है। PHP के द्वारा आप webpages में वो सब कर सकते है जो आप किसी programming language के द्वारा करते है। PHP के latest versions object oriented programming को support करते है। आइये अब PHP के बारे में detail से जानने का प्रयास करते है।


What is PHP? (in plain Hindi)


PHP एक open source server side scripting लैंग्वेज है। PHP dynamic webpages develop करने के लिए use की जाती है। PHP का पूरा नाम PHP Hypertext Preprocessor है। पहले इसे Personal Home Pages के नाम से जाना जाता था। ⇨ Scripting language वो language होती है जो different applications को एक साथ जोड़ती है। उदाहरण के लिए web browser और server के बीच में PHP काम करती है। इसलिए PHP एक server side scripting language कहलाती है। JavaScript भी एक scripting language है लेकिन JavaScript user के CPU और web browser के बीच काम करती है। इसलिए वह client side scripting language कहलाती है। ⇨ Dynamic webpages ऐसे web pages होते है जिनका content कुछ events के according change हो जाता है। उदाहरण के लिए एक dynamic web page load होते समय आपकी location के हिसाब से आपको आपकी city का current weather बता सकता है।  

ज्यादातर PHP का syntax C language से मिलता है। यदि आपने C language पढ़ रखी है तो आप आसानी से PHP को सिख सकते है। ये एक बहुत ही simple language है।

Applications of PHP


PHP को यूज़ करते हुए आप 3 मुख्य काम कर सकते है
  • Server side scripting – यह PHP का सबसे मुख्य कार्य होता है। PHP को इसी के लिए design किया गया था। इसके लिए आपको एक PHP parser, web server और web browser की जरुरत होती है।
  • Command line scripting – आप PHP code को बिना server या browser के भी run कर सकते है। इसके लिए आपको सिर्फ PHP parser की आवश्यकता होती है। इसे आप text processing के लिए use कर सकते है।
  • Desktop applications – PHP के द्वारा आप desktop applications भी create कर सकते है।

Features Of PHP


PHP के कुछ features नीचे दिए जा रहे है। इन features से आप PHP का quick idea लगा सकते है।
  • Open source – PHP आपको freely available है। इसका code publicly download के लिए internet पर उपलब्ध है। इसको आप अपने यूज़ के according modify कर सकते है।
  • Scripting language – PHP एक scripting language है।
  • Can be embedded into HTML – PHP को आसानी से HTML के साथ यूज़ किया जा सकता है।
  • Generates HTML – Execute होने के बाद PHP code simple HTML के रूप में show हो जाता है।
  • Server side – PHP आज के ज्यादातर web servers को support करती है। PHP का code server पर ही execute किया जाता है।
  • Can interact with databases – PHP के द्वारा आप databases के साथ interact कर सकते है। PHP बहुत सारे databases को भी सपोर्ट करती है। PHP को यूज़ करते हुए databases से interact करना बहुत आसान है।
  • Secure – जहाँ जँहा भी आप अपने program में PHP को यूज़ करेंगे server side पर execute होने के बाद उसका result आपके webpage में PHP code को replace कर देता है और simple HTML के रूप में webpage पर show होता है। Webpage generate होने के बाद PHP का code user को show नहीं होता है। आपका PHP code hidden रहता है उसे modify नहीं किया जा सकता है।

Future Scope of PHP

PHP एक बहुत ही popular और सिखने में आसान language है। सभी छोटी और बड़ी companies PHP को use कर रही है। बीते कुछ सालों में PHP को पूरी तरह change कर दिया गया है। PHP में object oriented programming features से लेकर popular content management systems जैसे की Joomla और Drupal के लिए भी support provide किया गया है। यह PHP की simplisity और effectivness ही है जो इसे इतना popular बनाती है। जिस तरह PHP में नए नए features add किये जा रहे है आने वाले सालों में PHP का scope और भी बढ़ सकता है। इस tutorial में आपने PHP की applications और उसके features के बारे में जाना है। जैसा की मैने आपको बताया PHP एक server side scripting language है। इसलिए PHP में development करने के लिए आपको PHP parser और web sever को install करने की आवश्यकता होती है। इन्हें install करने के बारे में विस्तृत जानकारी के लिए अगली tutorial पढ़ें -PHP Installation in Hindi

PHP Array

एक Array Multiple Values को एक Single Variable मे Store करता है.
<!DOCTYPE html>
<html>
<body>
<?php
$cars = array ( array(“Volvo”,22,18), array(“BMW”,15,13), array(“Saab”,5,2), array(“Land Rover”,17,15) ); echo $cars[0][0].”: In stock: “.$cars[0][1].”, sold: “.$cars[0][2].”.<br>”; echo $cars[1][0].”: In stock: “.$cars[1][1].”, sold: “.$cars[1][2].”.<br>”; echo $cars[2][0].”: In stock: “.$cars[2][1].”, sold: “.$cars[2][2].”.<br>”; echo $cars[3][0].”: In stock: “.$cars[3][1].”, sold: “.$cars[3][2].”.<br>”; ?> </body> </html>



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *